Professor used sexual harassment – अच्छे मार्क्स देने की आड़ में प्रोफेसर करता

उधमसिंघ नगर (उत्तराखंड) जिले के डिग्री कॉलेज में पड़रही २७ छात्रों ने उच्च शिक्षा निदेशक को लिखे पत्र में कहा की कॉमर्स विभाग के एक असिस्टेंट प्रोफेसर उनको अच्छे इंटरनल मार्क्स देने के नाम पर उनका यौन शोषण करते थे (Professor used sexual harassment)। यह मामला काशीपुर के राधे हरी राजकीय स्तनकोत्तर महाविद्यालय की है।

Professor used sexual harassmentअच्छे मार्क्स का लालच देकर प्रोफेसर छात्रों से यह करता था

टाइम्स ऑफ़ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक राज्यके उच्च शिक्षा निर्देशक डॉ एससी पंत को लिखे गए पत्र में छात्राओं ने कहा है की कॉमर्स विभाग के प्रमुख के तौर पर कार्यरत प्रोफेसर छात्रों छात्रोंका कहना है की प्रोफेसर अक्सर क्लास नहीं आते थे और आये तो कई दफा शराब पि कर आते है और असाइनमेंट पूरा न करने पर उनका यौन शोषण करते है।

छात्राओ ने पत्र में कहा की प्रोफेसर उन्हें २ पन्नो का असाइनमेंट देते है और जब वे सबमिट न कर पाए तो प्रोफेसर उन्हें डाटते है। महाविद्यालय के ज्यादातर छात्र गरीब घरानो से है, इस कारन छात्रों के पास कोई विकल्प नहीं होता और मानसिक व् शारीरिक शोषण सहनी पड़ती है।

शिवसेना – कश्मीर हमारा आंतरिक मामला है फिर EU के सांसदों को केंद्र सरकार क्यों बिच में घसीट रही है ?

छात्रों का यह भी आरोप है की प्रोफेसर परीक्षा में अच्छे अंख देने के लिए पैसे भी मांगते है, पैसे नहीं देने पर फ़ैल कर देते थे। छात्र इस प्रताड़ना से तंग आगये थे पर फ़ैल होने के डर से कम्प्लेन नहीं करते।

आरोपी प्रोफेसर ने अपनी सफाई में कहा के यह उन के खिलाफ रचा एक षड्यंत्र है। अपने बयानमें कहा की कॉलेज में कई समितियों में सक्रिय रहने के कारन उन्हें निशाना बनाया गया है।
उच्च शिक्षा निदेशक ने इस मामले की गंभीरता से जांच करने को कहा, व् महाविधालय के प्रिंसिपल को १ सप्ताह के भीतर जांच कर रिपोर्ट ज जमा करने का निर्देश दिया।