Kamlesh Tiwari Murder - जानिये क्या है कामेश तिवारी के हत्या की कहानी
Kamlesh Tiwari Murder – जानिये क्या है कामेश तिवारी के हत्या की कहानी

यह घटना दोपहर की है जब Kamlesh Tiwari अपने निवास स्थान (लखनऊ) पर थे, और इस दिन उन के बॉडीगार्ड छुट्टी पर थे. ३ लोग कमलेश के निवास स्थान पे दिवाली की मिठाई देने के बहाने से आये थे और गार्ड के तलाशी और पूछताछ करने पे ही अंदर गए. इसमें २ पुरुष और १ महिला थी, ये लोग करीब आधा घंटा कमलेश के निवास स्थान पर चाय-नाश्ता किया और बातचीत कर रहे थे.

कमलेश के निवास स्थान के समीप की CCTV रिकॉर्डिंग.

करीब हत्या के ५ मिनिट पूर्व उनकी पत्नी को मध्य आवाज़ में विवाद की गूंज आई इसे उन्होंने नज़रअंदाज़ किया. जब संधिग्द दौड़ने की आवाज़ आई तब वह किचन से निकली तो कमलेश को लहू लुहान पाया.

मामले में उनकी पत्नी किरण तिवारी के बयान के मुताबिक यह काम मोहम्मद मुफ़्ती नईम काज़मी का है, ३ वर्ष पहले मुफ़्ती ने १.५ करोड़ का इनाम कमलेश का सर कलम करने वाले को देने का ऐलान किया था.

kamlesh Tiwari – आखिर कोण है कमलेश तिवारी का हत्यारा

मामले का मास्टरमाइंड सईद असीम अली (29) नागपुर जाफ़र नगर का निवासी है. सूत्रों के मुताबिक इस ह्त्या को अंजाम देने पर असीम अली को फ़ोन कर हत्यारो ने कहा ” काम होगया है”. सईद अली को रशीद अहमद के निशानदेही पर पकड़ा गया है. अब तक मामले में ३ और आरोपियों को हिरासत में लिया गया है. आरोपी मौलाना मौसीन शेख (२४), रशीद अहमद पठान (23) और फैज़ान(21). इस मर्डर के मुख्य २ आरोपी अब भी पुलिस की गिरफ्त से फरार है.

सूरत के दुकान में मिठाई खरीदते हुए आरोपी

घटनास्थल पर मेले मिठाई का बिब्बे को आधार मान कर, १२५० की.मी दूर सूरत से ATS गुजरात ने मौलाना मौसीन शेख, रशीद अहमद पठान, और फैज़ान यूनिस भाई जिलानी को गिरफ्त में लिया.
कमलेश की माँ का मानना है की इस मर्डर में बीजेपी नेता शिव कुमार गुप्ता का बड़ा हाथ है.

PMC Bank Case – बैंक से पैसे न निकला पाने की वजसे बिना इलाज हुवे बुजरुग की मौत

माँ का कहना है की शिव कुमार गुप्ता की छवि अपराधी किस्म की है और उनपर ५०० से ज्यादा मामले दर्ज है . कमलेश तिवारी के सुपुत्र का इस मामले में तर्क अलग था, सत्यम तिवारी का कहना है की उनको यकींन नहीं की जिन आरोपियों को हिरासत में लिया है वो ही हत्या के मुख्य आरोपी है. उन्होंने प्रशासन से NIS से करवाने की मांग की है. मुख्य २ आरोपी की अभी तलाश जारी है.