Declaration of healthy emergency - बढ़ते प्रदुषण को देख सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली में स्वस्त आपातकाल की घोषणा कर दी
Declaration of healthy emergency – बढ़ते प्रदुषण को देख सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली में स्वस्त आपातकाल की घोषणा कर दी

दिल्ली में दिवाली के बाद से ही प्रदुषण बोहत ही ज्यादा बढ़ चूका है | बताया जा रहा है के दिल्ली में प्रदुषण की हालत बोहत ही गंभीर हो चुकी है और साथ ही वह खतरे के निशान के उप्पर जा चुकी है | इसी के चलते सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली में बढ़ते प्रदुषण को देखते हुवे स्वस्थ आपातकाल की घोषणा (Declaration of healthy emergency) कर दी है | साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने प्रदुषण को लेकर काफी सारे फैसले भी लिए |

सुप्रीम कोर्ट ने स्वस्त आपातकाल की घोषणा करते हुवे (Declaration of healthy emergency) दिल्ली में यह फैसले लिए…

सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली में बढ़ते प्रदुषण को को देख कर आपातकाल की घोषणा करते हुवे कहा के दिल्ली में 5 नवंबर तक सभी प्रकार के निर्माण कार्य बंद रहेंगे | साथ ही किसी भी प्रकार का कोई भी नियम का उल्लघन करने पर उसको दण्डित किये जाने की घोषणा सुप्रीम कोर्ट ने की है | इसी के साथ ही (EPCA) ने भी प्रदुषण की गंभीर जहालत को देख यह घोषणा कर दी के जब तक पूरी ठण्ड खता न हो जाती है ताब तक कोई भी दिल्ली में पठाके नहीं फोड़ेंगे |

भाजपा के नेता कपिल मिश्रा ने मुस्लिमो के खिलाफ यह भद्दा ट्वीट किया, पढ़िए पूरी खबर….

दिल्ली में जितना भी प्रदुषण है उसका एक कारन पंजाब और हरियाणा में जलाई गयी किसानो की परली भी है | (EPCA) के अध्यक्ष ने हरियाणा, पंजाब और दिल्ली के मुख्या सचिवों को पत्र लिख कर यह बताया के दिल्ली NRC में गुरुवार रात प्रदुषण की श्रेणी अब तक की सबसे ख़राब स्तिथि में पोहोच गयी थी | और साथ ही उन्होंने कहा के ‘‘ हम इसे एक जन स्वास्थ्य आपातकाल की तरह ले रहे हैं क्योंकि वायु प्रदूषण का स्वास्थ्य पर गंभीर प्रभाव होगा , विशेषकर बच्चों के स्वास्थ्य पर …’

आप को बता दे के दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने दिल्ली में बढे हुवे प्रदुषण का कारण हरियाणा और पंजाब में जलाय हुवे परली को बताया | और साथ ही मुख्यमंत्री केजरीवाल ने पंजाब के कॅप्टन और हरियाणा के खट्टर सरकार पर निशाना साधते हुवे भाजपा और कांग्रेस पर दिल्ली में हो रहे प्रदुषण का आरोप लगाया |

केजरीवाल ने कहा के “खट्टर और कैप्टन सरकारें अपने किसानों को पराली जलाने पर मजबूर कर रहीं हैं जिसकी वजह से दिल्ली में भारी प्रदूषण है |
कल पंजाब और हरियाणा भवन पर लोगों ने प्रदर्शन कर वहां की सरकारों के प्रति अपना रोष प्रकट किया।

साथ ही दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने एक फैसला लिया के “दिल्ली में पराली के बढ़ते धुएँ के चलते प्रदूषण का स्तर बहुत ज़्यादा बढ़ गया है. इसलिए सरकार ने निर्णय लिया है कि दिल्ली के सभी स्कूल 5 नवम्बर तक बंद रहेंगे